in

UP Election 2022: बस्ती में स्ट्रॉन्ग रूम के पीछे वीवीपैट की पर्चियां मिलने से मचा हड़कंप, एसडीएम ने दी ये जानकारी

UP Assembly Election 2022: बस्ती मंडी समिति परिसर में मतदान के बाद ईवीएम और वीवीपैट मशीनों को स्ट्रॉन्ग रूम में रखा गया है. स्ट्रॉन्ग रूम परिसर के बाउंड्री के पीछे सुबह बच्चों को वीवीपैट पर्चियां मिलीं. बच्चे सैकड़ों की संख्या में पर्ची लेकर खेलने लगे. जब लोगों की नजर इस पर पड़ी तो हड़कम्प मच गया. देखते-देखते लोगों की भीड़ बढ़ने लगी.

स्ट्रॉन्ग रूम परिसर में एक होमगार्ड इधर-उधर बिखरी वीवीपैट पर्चियों को इकट्ठा करने लगा. जिसकी जानकारी मिलने के बाद गांव की महिलाएं, बच्चे उस होमगार्ड के साथ हाथापाई, मारपीट करने लगे. होमगार्ड ने जो वीवीपैट पर्ची इकट्ठा किया था उसको छीनने लगे. मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची.

UP Election 2022: बिहार के ‘सुशासन बाबू’ मॉडल का यूपी में प्रचार, ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे मंत्री संजय झा

बसपा प्रत्याशी आलोक वर्मा, जहीर अहमद और अशोक मिश्रा भी पहुंच गए. बसपा प्रत्याशी जहीर अहमद ने मामले की जांच कराने की मांग की. उन्होंने कहा कि ये पर्चियां कैसे इधर-उधर फेंकी गईं, इस पर प्रशासन पर सवाल खड़े होते हैं कि निष्पक्ष चुनाव कैसे कराए होंगे?

एसडीएम ने मामले की जांच की और पर्चियों को अपने कब्जे में ले लिया. एसडीएम ने कहा कि चुनाव से पहले मॉर्क ड्रिल में मॉर्क पोलिंग कराई जाती है ये उसी की पर्चियां लग रही हैं, इन पर्चियों को क्रैश कराना चाहिए, पर्चियां इधर-उधर फेंकी गई हैं ये बड़ी लापरवाही है, जांच कर जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

सपा प्रत्याशी महेन्द्रनाथ यादव भी मौके पर पहुंचे. इस दौरान किसी ने फोन करके बसपा प्रत्याशी डा. आलोक रंजन को बुला लिया. उन्होंने मामले को बेहद गंभीर बताते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी से जांच की मांग की और कहा कि दोषियों को सजा मिलनी चाहिये. 

सूचना पाकर अपर जिलाधिकारी अभय कुमार मिश्रा भी मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण और प्रत्याशियों के समर्थक इकट्ठा हो गये थे. उन्होने कहा ये ट्रॉयल पर्चियां थी जिन्हें जलाया गया है. पूछा गया ये एक ही दल की क्यों थीं ? इनमें बीजेपी, कांग्रेस आदि की पर्चियां क्यों नहीं थीं ? सवालों से बचते हुये एडीएम मौके से चले गये. 

इसे भी पढ़ें:

UP Election 2022: अखिलेश यादव ने कहा, बीजेपी के नेता ‘गर्मी’ की बात कर रहे हैं और हम ‘भर्ती’ की, यूपी में रोजगार को लेकर सपा प्रमुख ने क्या कहा

What do you think?

Written by

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Ukraine Russia War: जंग के बीच रूस को यूक्रेन की दो टूक- पोलैंड नहीं भागे हैं राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की, कीव में ही हैं

अमरनाथ गुफा में शिवलिंग का बनना दैवीय क्रिया है या भौगोलिक?, यूपीएससी इंटरव्यू में पूछे जाते हैं ऐसे सवाल