in

UP Election 2022: वाराणसी के दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, काशी विश्वनाथ मंदिर में की पूजा

अपने काशी दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रोड शो किया, जिसके बाद वो काशी विश्वनाथ मंदिर में मत्था टेकने पहुंचे. काशी विश्वनाथ मंदिर में प्रधानमंत्री ने पूजा-अर्चना की. पीएम मोदी के रोड शो के दौरान भारी संख्या में लोगों की भीड़ सड़कों पर मौजूद थी. 

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वाराणसी में शुक्रवार को दो बजे से मलदहिया स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रोड शो की शुरूआत की. प्रधानमंत्री के रोड शो के दौरान जनता में गजब का उत्साह देखने को मिला. प्रधानमंत्री मोदी ने प्रधानमंत्री का रोड शो करीब 3.1 किमी लंबा था. यह मलदहिया चौराहे से शुरू होकर लहुराबीर, कबीरचौरा, लोहटिया, मैदागिन, नीचीबाग, चौक होते हुए बाबा विश्वनाथ धाम तक गया. यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बाबा विश्वनाथ से आशीर्वाद लिया. इसके बाद पीएम मोदी सोनारपुरा, अस्सी मार्ग से होते हुए बीएचयू गेट पर स्थित पंडित मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यापर्ण करेंगे.

यूपी चुनाव के सातवें चरण के प्रचार के दौरान शुक्रवार को पीएम मोदी ने कहा, ‘‘पूरी दुनिया अब इस सदी के ‘नाजुक दौर’ से गुजर रही है. कई देश आज महामारी, अशांति और अनिश्चितता की स्थिति का सामना कर रहे हैं, लेकिन आप देख रहे हैं कि संकट चाहे कितना भी गहरा हो भारत के प्रयास उससे भी ज्यादा बड़े रहे हैं.’’ मोदी ने यूक्रेन संकट का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हमने ऑपरेशन गंगा के तहत यूक्रेन से हजारों छात्रों को सुरक्षित रूप से निकाला है और शेष बचे लोगों को वहां से सुरक्षित निकालने के लिए विमान लगातार उड़ान भर रहे हैं.’’

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में ‘वंदेभारत’ अभियान चलाकर एक-एक नागरिक को विदेश से लाया गया, अफगानिस्तान में ‘ऑपरेशन देवी’ चलाकर भारत ने अपने नागरिकों को वहां से निकाला और अब यूक्रेन से अपने नागरिकों और छात्रों को बचाने में देश लगा हुआ है. मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए लोगों से कहा कि उन्हें ‘परिवारवादियों’ और ‘माफियाओं’ को हराना है और उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनानी है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश को लगातार ऐसा नेतृत्व चाहिए जो राष्ट्रभक्ति की भावना से भरा हुआ हो.

ये भी पढ़ें- Ukraine Russia War: यूक्रेन के सीमाई देश रोमानिया में क्या हैं जमीनी हालात? ये देश कर रहा शरणार्थियों का स्वागत

ये भी पढ़ें- Russia Ukraine War: यूक्रेन से निकलने के लिए भारतीय छात्र ने रखी ये शर्त, फिर ऐसे पहुंचा भारत

What do you think?

Written by

Leave a Reply

Your email address will not be published.

UP Election 2022: साइन बोर्ड के रंग में बार-बार बदलाव से संत समाज में नाराजगी, कहा- ‘जिसे भगवा से परहेज वह हिंदुस्तानी नहीं’

Crude Oil Price: जेपी मार्गन की भविष्यवाणी रूस से सप्लाई हुई बाधित तो 2022 के आखिर तक 185 डॉलर तक जा सकती है कच्चे तेल की कीमत