in , ,

वेटिंग टिकट वालों को आसानी से मिलेगी सीट भारतीय रेल में

रेल यात्रा के दौरान वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को यात्रा के दौरान कनफर्म सीट मिलने की संभावना काफी बढ़ गई है. रेलवे जनवरी 2019 से ऐसी व्यवस्था करने जा रहा है कि जिसके तहत यदि ट्रेन के चलने के बाद भी कोई टिकट रद्द होता है तो उसकी सूचना ट्रेन में मौजूद टीटी को मिल जाएगी. उपलब्ध सीट के आधार पर वह ट्रेन में मौजूद वेटिंग लिस्ट वाले यात्री को कनफर्म सीट उपलब्ध करा सकेगा. इस व्यवस्था के लिए ट्रेन में टिकटों की जांच करने वाले टीटी को हैंड हेल्ड टर्मिनल उपलब्ध कराए जाएंगे. किसी भी टिकट के रद्द होने पर उसकी जानकारी टीटी के पास मौजूद हैंड हेल्ड टर्मिनल पर आ जाएगी. इससे वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को सीट के लिए दो स्टेशनों तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा. वहीं खाली टिकटों की जानकारी रेल प्रशासन के पास भी होने से टीटीई की मजबूरी होगी कि वह पहले वेटिंग टिकट कन्फर्म करे. इसके बाद भी सीट खाली रह जाती है तभी वह किसी दूसरे यात्री को सेटिंग करके सीट दे सकेगा.

जल्द ही बांटे जाएंगे 8000 टर्मिनल
इस प्रोजेक्ट को दो चरणों में शुरू किया जाएगा क्योंकि एक साथ बड़ी संख्या में हैंड हेल्ड टर्मिनल उपलब्ध कराना मुश्किल है. पहले चरण में करीब 500 टीटीई को टर्मिनल दिए जाएंगे. वहीं दूसरे चरण में 8 हजार हैंड हेल्ड टर्मिनल बांटे जाएंगे. दोनों चरण पूरे होने के बाद शताब्दी, राजधानी और दुरंतो के साथ-साथ सभी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में भी टीटीई को टर्मिनल मिल जाएंगे.

मिनटों में होगी टिकटों की जांच
टर्मिनल से टिकटों की जांच में अब ज्यादा समय नहीं लगेगा. हैंड हेल्ड टर्मिनल से टिकटों की जांच 50 मिनट के बजाए 20 मिनट में हो सकेगी. लोगों को टीटीआई आने का देर तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा. रेल मंत्रालय यात्रियों को बेहतर सुविधाएं देने और सिस्टम को पटरी पर लाने का प्रयास कर रहा है. हैंड हेल्ड टर्मिनल की प्लानिंग भी इसी का हिस्सा है.

आसानी से मिल सकेगा रिफंड
टर्मिनल अपडेट होने से कैंसिल टिकट के रिफंड की प्रक्रिया जल्दी शुरू हो जाएगी. अभी कैंसिल के बाद रिफंड के लिए टीटीई की रिपोर्ट लगती है कि संबंधित व्यक्ति ने यात्रा नहीं की. इससे टिकट कैंसिल के बाद रिफंड जल्द आ सकेगा. मशीन आवंटन के दोनों चरण पूरे होने के बाद शताब्दी, राजधानी और दूरंतो के साथ-साथ सभी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में भी टीटीई को टर्मिनल मिल जाएंगे.

What do you think?

Written by admin

How To Know Fake Rs. 2000 Currency Note

DRDO Released Senior Technical Assistant Recruitment Exam Admit Card